Duniya ki sabse jayda boli jane wala bhasha.top 10 सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषाएँ कौन सी है,in 2021.

Table of Contents

दुनिया मे सबसे अधिक बोले जाने वाली भाषा कौन सी हैं।Duniya ki sabse jayda boli jane wala bhasha.

https://bajrangisoch. com
दुनिया की दस सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा कौन है।

 

दोस्तो अगर हम आज आपसे संवाद कर रहे है,तो ये भाषा का ही देन है,आज हम जानेंगे दुनिया की 10 सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषाओं के बारे में,और साथ मे कुछ महत्वपूर्ण जकनकरिया सभी भाषाओं के बारे में,तो आप तैयार रहे हमारे साथ पूरी दुनिया की  फेमस भाषाओं की जानकारियां के लिए।

Duniya ki sabse jayda boli jane wala bhasha in 2021.

U. N की 6 आधिकारिक भाषाएँ कौन-कौन सी है?
1.English            2.Russian
3.French।            4.Arabic
5.Chincse।           6.Spanish

amazing facts about India in Hindi.

दुनिया मे कितने भाषाएँ बोली जाती है?

दुनिया मे लगभग 6000 भासए बोली जाती है।

दुनिया की सबसे पुरानी भाषा कौन सी है?

दुनिया की सबसे पुरानी भाषा संस्कृत है,संस्कृत एक ऐसी भाषा है,जो कि कंप्यूटर की प्रोग्रामाइंग में अभी बारे ही जोर सोर से उपयोग में आ रही है।

दुनिया मे सबसे अधिक बोले जाने वाली भाषाओं की पूरी लिस्ट हिंदी में।

 
No 1.Mandarin (चीनी भाषा)
 
👉👉दोस्तो दुनिया मे सबसे ज्यादा बोली जानी वाली भाषाओं में China की Mandarin भाषा (जिसे हम chines भाषा के नाम से जानते है) सबसे ज्यादा बोली जाती है।
        दोस्तो chines भाषा के बोलने वाले लोगो की संख्या करीब 110 करोड़ है,जिसमे से अकेले चीन में 90 करोड़ है।
Chines भाषा दो प्रकार के होते है,एक पारंपरिक mandarin जो कि Hinkong, singapur जैसे देशों में बोली जाती है।और दूसरा simpal mandarin जो कि चीन,मलेशिया जैसे देशों में बोली जाती है।
 
No 2.English
 
👉👉दोस्तो english की अगर हम बात करे तो इंग्लिश एक ग्लोबल भाषा बन गई है,जो कि करीब 60 देशो की राष्ट्रीय है।अभी english भाषा को बोलने वाले लीगो की संख्या करीब 100 करोड़ है।
      Engliah भाषा की इतिहास उतनी पुरानी नही लेकिन  हम ये कह सकते है कि english को global भाषा बनाने में british सम्राज्य का ही सम्पूर्ण हाथ है।
 
No 3.Hindi 
 
👉👉हिंदी अभी दुनिया की तीसरी सबसे ज्यादा बोली जानी वाली भाषा है,जिसे बोलने वाले लोगो की संख्या करीब 55 करोड़ है,खास कर यह भाषा हिंदुस्तान में ही बोली जाती है।
      हिंदी भारत के साथ-साथ और भी कई देशों में बोली जाती है,जैसे कि नेपाल,मोनाशिस आदि ।
 
No 4.Spanish
 
👉👉अगर हम स्पेनिश भाषा की बात करे तो ,स्पेनिश भाषा को बोलने वाले लोगो की संख्या 52 करोड़ है,और 43 करोड़ लोग तो जन्म से ही स्पेनिश भाषा को बोलने लगते है।
        स्पेनिश भाषा को पूरी दुनिया मे spain के आक्रमण कारियो ने पूरी दुनिया मे फैलाया।अभी स्पेनिश भाषा को सबसे ज्यादा मैक्सिको में बोली  जाता है।
 
No 5.Arabic (अरेबिक)

👉👉Arabic दुनिया की 26 देशो के प्रशासनिक भाषा है,अभी arabic की बोलने वाले लोगो की संख्या करीब 42 करोड़ है।
  Arabic भाषा के बारे में कहा जाता है कि जब ईशवर ने हज़रत मोहम्द को पवित्र कुरान की ज्ञान दी थी तो उनका भाषा भी arabic ही था।

No 6.Malay (मलय)

👉👉Malay भाषा जो कि  इंडोनेशिया,सिंगापुर,फिलीपीन्स, मलेशिया जैसे देशों में बोली जाती है,इस भाषा को बोलने वाले लोगो की संख्या करीब  28 करोड़ है।

No 7.Russian

👉👉Russian भाषा जो कि रूस,यूक्रेन,कजाकिस्तान जैसे देशों की राष्ट्रीय भाषा है,और रसियन भाषा को बोलने वाले लोगो की संख्या करीब 27 करोड़ है।
      Russian भाषा उन देशों में भी बोली जाती  है जो कि कभी सोभियत संग के कभी पार्ट हुवा करते थे।

No8.Bengali

👉👉दोस्तो बंगाली भाषा को भी बोलने वाले लोगो  कि भी संख्या  करीब 24.5 करोड़ है ,जो कि बांग्लादेश, समेत भारत के कुछ हिस्सा में भी बोली जाती है ,और अभी बंगाली भाषा दुनिया की 8 सबसे बड़ी भाषा है।

No 9.Portugese 

👉👉Purtugese जो कि दुनिया के करीब 23 करोड़ लोग बोलते है,ओर ये दुनिया के 8 दर्शो का राष्ट्रीय भाषा है।pourtugese बोलने वाले लोगे को losophone कहा जाता है।pourtugese सबसे ज्यादा ब्राजिल में बोली जाती है।

No 10.French

👉👉जी है दोस्तो फ्रेंच भाषा भी दुनिया के करीब 23 करोड़ लोगों के द्वारा बोली जाती है,जो कि करीब 28 देशो की राष्ट्रीय भाषा है,इस भाषा को इतना पहचान मिलने के पीछे फ्रांस की पुराने शासको की देन है,french भाषा को स्थनीय लोगो से ज्यादा विदेशों में बोली जाती है।
    French भाषा यूरोप के साथ-साथ अफ्रीकी देशों में भी बोली जाती है।


क्या कारण है, कि  दुनिया का तीसरा सबसे ज्यादा बोली जानी वाला भाषा को UN की मेज पर जगह नही मिली जी हा हम हिंदी की बात कर रहे है?


👉👉दोस्ते हिंदी दुनिया की तीसरी सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा तो ही मगर हिंदी किशी भी देश का national language नही है,इसीलिए हिंदी को अभी तक UN की मवज पर जगह न मिलने का एक कारण है।और एक कारण यह भी है कि हमारा सरकार इन सब पर ज्यादा ध्यान नही देते है।

दोस्तो हम आशा करते हैं ,की आपको हमारा यह आर्टिकल जरूर पसंद आया होगा ।



 

Leave a Comment