भारत से कितने देश अलग हुए जानिए उनके नाम। अखंड भारत के हिस्सा – 15+ country name depart by india

4.7/5 - (3 votes)

दोस्तों आज हम आपको बताने वाले हैं कि भारत कब कब टूटा है, मतलब भारत से टूटकर कितने नए देश बने हैं दोस्तों हम सभी जानते हैं कि आज से करीब सैकड़ों वर्ष पहले भारत एक बहुत बड़ा देश हुआ करता था जोकि धीरे-धीरे विदेशी आक्रांता ओ के द्वारा कब्जा करके छोटा होते गया।

आज हम भारत के उसी अखंड भारत की इतिहास को पड़ेंगे जानेंगे कि आखिरकार क्या गलतियां भारतीय राजाओं के द्वारा हुआ करती थी जिसके चलते हमारा देश समय-समय पर टूटता रहा और हमारा देश भारत कब कब टूटा क्यों टूटा इन सभी बातों पर हम बड़े गंभीरता के साथ ध्यान देंगे।

भारत से कितने देश अलग हुए
भारत से कितने देश अलग हुए

भारत एक ऐसा देश है ,जिसकी इतिहास की कथाओं  की अगर हम व्याख्या करें तो सालो लग जीएंगे ,लेकिन आज हम आपको भारत का ही इतिहास को बताएंगे ।

       आज हमारा topic भारत से कितने देश अलग हुए ,जिसमे हम आपको उन देशों के बारे में बताएंगे जो कि कभी अखंड भारत के कितने टुकड़े हुए  करता था,जिसमे से हम पाकिस्तान ,नेपाल ,बांग्लादेश को ही जानते है।मगर बहुत सारी ऐसे देश है जो कि कभी भारत का अंग हुए करता था।

आज से 2500 साल पहले  भारत का क्षेत्रफल 83 लाख sq ,km था,जो कि अब 33 लाख sq, km में सिमट गया तो आइये हम जानेंगे कि वो कौन-कौन सा देश है ,जो कभी भारत का हिस्सा थे।भारत से कितने देश अलग हुए\

 

Bharat se kitne desh alag hue aur naye desh bane.भारत से कितने देश अलग हुए

 

जैसा कि मैंने पहले ही आपको बता दिया था कि आज के इस आर्टिकल में मैं आपको भारत से टूटकर कितने नए देश बने के बारे में बताऊंगा और उसके नए देश बनने का कारण ही बताऊंगा सबसे पहले मैं आपको बता दूं।

चाणक्य और चंद्रगुप्त मौर्य ने मिलकर भारत को एक अखंड भारत का निर्माण कर दिया था जो कि दुनिया की सबसे बड़ी अखंड देश बन चुकी थी मगर इसकी भव्यता एवं सकुशल ता को देखकर विदेशियों आकर्षित हुआ करते थे।

जिसके चलते समय समय पर भारत पर आक्रमण होते रहा और भारत के घर के गद्दारों के चलते ही भारत धीरे-धीरे टूटते गया।

भारत के टूटने का मुख्य कारण धार्मिक रहा क्योंकि भारत सबसे अधिक बार इस्लाम धर्म के कारण ही टूटा इस्लाम देश वाले यहां आते थे एवं अपने तादात को बढ़ाकर यहां हिंदुओं का विनाश करके नया इस्लामिक देश बना देते थे।

अगर आप देखें तो भारत में जितने भी नए देश टूटकर बने उनमें से अधिकांश इस्लामिक देश ही बने हैं जिसकी जानकारी नीचे अपने आर्टिकल भारत से कितने देश अलग हुए मैं मैं आपको बता दूंगा।

भारत से टूटकर कितने नए देश बने (कब कब बंटा भारत)संपूर्ण लिस्ट।भारत से कितने देश अलग हुए|

दोस्तों जब भी भारत पर विदेशी आक्रांता ओं के द्वारा आक्रमण किया गया और वह भारत के राजाओं को हराकर अपना राजस्वास्थ्य पित्त कर लेते थे फिर वहां पर अपनी धर्म के बढ़ावा देकर वहां के जनसंख्या को कंट्रोल कर लेते थे तब तक बढता रहा है भारत।

ऐसी बहुत सारी देश है जो कि कभी अखंड भारत की अंग हुआ करती थी और बाद में वहां पर धर्म के आधार पर देश को बांट दिया गया है ज्यादातर भारत से बचने वाले देश धर्म के नाम पर ही बट गए हैं कुछ देश अपनी अलग संस्कृति के चलते भी भारत से अलग हुए हैं।

भारत से अलग हुए 15 देशों के नाम बताइए

No 1.Iran 

जी है दोस्तो ईरान कभी हमारे अखंड भारत के हिस्सा थी ,जिसे अरबो ने हमला करके भारतीय शासको को हर कर एक नया देश का निर्माण किया जिसका नाम ईरान पारा।

आज से करीब 900 वर्ष पहले ईरान हिंदू majority वाली देश थी परंतु जैसे ही वहां पर मुस्लिम शासकों के द्वारा अपना शासन फैलाया गया वैसे वहां से हिंदू जनसंख्या खत्म होने लगी और धीरे-धीरे ईरान एक इस्लामिक देश बन गया।

No 2.Cambodia

पहली सतब्दी में kambodiya भारत का ही हिसा था ,जिसे एक kambodia नामक भारतीय ब्राह्मण ने एक अलग हिन्दू राष्ट्र का निर्माण किया जो कि आगे चल कर एक नया देश बना,जिसका नाम kambodia पारा।

दोस्तों जब हमने कुछ इतिहासकारों से बात किया तो उनका कहना था कि कंबोडिया भारत से इसलिए अलग हुआ था क्योंकि उस वक्त भारत में बौद्ध धर्म का बहुत ही तेजी से प्रचार हो रहा था . जिसके कंबोडिया नामक ब्राह्मण के द्वारा एक हिंदू राज्य की स्थापना की गई थी बाद में चलकर वह एक देश बन गया।

No 3.Vietnam (वियतनाम)

वियतनाम देश का नाम पहले चंपक प्रदेश हुआ करता था। उस वक्त यह देश अखंड भारत के अधीन ही आती थी परंतु यहां पर धीरे-धीरे भारत के शासकों की पकड़ कमजोर होते घी और उसी वक्त मुस्लिम शासकों के द्वारा चंपक प्रदेश को पूरी तरह से कब्जा कर लिया गया।

धीरे-धीरे यहां पर इस्लाम धर्म का बहुत तेजी से प्रचार-प्रसार हुआ और उसके बाद अंग्रेजों द्वारा चंपक प्रदेश का नाम वियतनाम रखकर इसे एक नया देश 1825 में बना दिया गया।

No 4.Malaysia (मलेसिया)

दोस्तों आज से करीब 400 वर्ष पहले मलेशिया अखंड भारत के एक अभिन्न अंग माना जाता था। परंतु यहां पर बहुत ही तेजी से बौद्ध और इस्लाम धर्म फैलने लगी जिससे यहां पर एक अलग राष्ट्र की मांग होने लगी।

यहां पर अंग्रेजों द्वारा जब पूरे भारत पर कब्जा कर लिया गया था उस वक्त मलेशिया भी भारत के अंग थी और यह भी अंग्रेजों के अधीन चला गया था परंतु जब अंग्रेज देश को छोड़ रहे थे उस वक्त इसे पूर्णता 1948 में एक नया देश की मान्यता मिल गई।

No 5.Indinesiya (इंडोनेशिया)

दोस्तों आज इंडोनेशिया दुनिया का सबसे अधिक मुस्लिम आबादी वाला देश है, परंतु आज से करीब 200 से 300 वर्ष पहले इंडोनेशिया एक हिंदू आबादी वाली देश थी जहां पर मुगल और अरबी राजाओं के द्वारा अतिक्रमण कर लिया गया फिर वहां पर इस्लाम बहुत ही तेजी से फैलने लगा।

जिसके चलते आगे चलकर या एक नया देश बन गया परंतु सोचने वाली बात यहां पर यह है कि आज भी इंडोनेशिया के 80% आबादी मुस्लिम होने के बावजूद भी अपने पूर्वज हिंदू देवी देवताओं को मानते हैं।

आज इंडोनेशिया सबसे अधिक मुस्लिम आबादी वाला देश होने के बावजूद भी यहां पर ज्यादातर लोगों के नाम संस्कृत शब्द से प्रेरित होते हैं, यहां के सरकारी टेलीविजन पर प्रतिदिन 1 घंटे रामायण ब्रॉडकास्ट होती है और हैरानी की बात यह भी है कि यहां के नोटों पर भगवान श्री गणेश और लक्ष्मी माता की तस्वीर छपी गई है।

जहां भारत दुनिया का सबसे अधिक हिंदू आबादी वाले देश होते हुए भी भारत के नोटों पर हिंदू देवी देवताओं के तस्वीर नहीं है वही इंडोनेशिया मुस्लिम बाहुल्य होने के बावजूद भी यहां के नोटों पर हिंदू देवी देवताओं के तस्वीर है आश्चर्य करती है यह बातें।

दोस्तों यहां पर बहुत सारी संस्कृति या भारत की ही है और इंडोनेशिया में भारतीय संस्कृति पहुंचाने के लिए सारा श्रेय चोल साम्राज्य को जाता है क्योंकि चोल साम्राज्य ने सबसे अधिक समय तक इंडोनेशिया में अपना राजपाट चलाया था और वहां पर भारतीय संस्कृति को बहाल किया था।

No 6.FLIPINAS (फलिपियन्स)

दोस्तों फिलिपिंस आज से करीब 300 वर्ष पहले भारत का ही अंग हुआ करता था। परंतु इस देश पर यमन के मुस्लिम शासकों की नजर पड़ गई और उन्होंने इस देश पर आक्रमण करके यहां के राजाओं को हरा दिया।

उसके बाद जब यहां पर यमन के राजाओं का वर्चस्व हो गया तब इसे एक नया देश बना दिया गया जिसका नाम फिलीपींस पड़ गया।

No 7.Afaganistan (अफगानिस्तान)

आज से हजारों वर्ष पहले अफगानिस्तान का नाम गांधार हुआ करता था और आज भी अफगानिस्तान में गांधार नामक एक जगह भी है अगर हम पौराणिक कथाओं की माने तो महाभारत के दुर्योधन की माता का घर हुआ करता था गांधार जिसके चलते उन्हें गांधारी भी कहा जाता था।

आगे चलकर बहुत समय तक या अखंड भारत का ही हिस्सा रहा परंतु जब सिकंदर विश्व विजेता बनने की ख्वाहिश लेकर आ रहा था उसी वक्त उसने भारत पर अतिक्रमण किया था परंतु जिस में वह नाकाम रहा था उसके बावजूद भी उसने भारत के एक राजा अंबे को हरा दिया था जिसके चलते राजा अंबी ने संधि तौर पर अफगानिस्तान को सिकंदर को सौंप दिया था।

बाद में चंद्रगुप्त मौर्य के द्वारा इसे पुनः अखंड भारत में सम्मिलित कर दिया गया था परंतु आगे चलकर यहां पर भी मुगल और अरब के मुस्लिम शासकों के द्वारा इसे जीत लिया गया और धीरे-धीरे जहां पर भारतीय संस्कृति नष्ट होते गए और जिसके बाद एक नया देश का निर्माण में हुआ जिसका नाम अफगानिस्तान पड़ा।

No 8.Nepal

ये देश कभी भारत का ही हिस्सा था,जिसे गोरखा ने अलग करके एक नया हिंदू राष्ट्र का निर्माण किया,जिसका नाम नेपाल परा।गोरख कोई और नही भगवान बौद्ध का ही वंसज है।

No 9.Bhutan (भूटान)

भूटान एक छोटा सा देश है,जो कि 1949 से पहले भारत का ही हिस्सा था,जो कि आजादी के बाद एक नया देश बन गया,जिसका नाम भूटान परा।

No 10.Shri lanka (श्री लंका)

श्री लंका का प्राचीन नाम कंकपनी था,जिसपे ब्रिटिश ने अपना शासन को कायम करने में सफल हो गए और1937 में इसे एक नया देश बनाया जिसका नाम श्री लंका रखा गया।

No 11.Myanmar (म्यांमार)

म्यांमार  पहले भारत का ही हिस्सा था,जिसे  वर्मा प्रदेश के नाम से जाना जाता था,जहा के पहला राजा वाराणसी के थे,फिर वहां 1852 में कुछ ब्रिटिश बिज़नेस करने के माध्यम से पहुँचे ओर फिर वहां अपना कब्जा जमा दिया और 1937 में एक नया देश का निर्माण किया जिसका नाम म्यांमार परा।

No 12.Thailand (थाईलैंड)

पहले इसका नाम श्याम प्रदेश था,और पहले यहाँ हिंदुओ का शासन था तब ये भारत का ही हिस्सा था,फिर यहां बौद्ध धर्म का प्रचार तेजी से होने लगा और फिर यह हिन्दुओ की संख्या कम हो गई और ये एक नया देश बन गया,जिसका नाम परा थाईलैंड।

आपको यह जानकर आश्चर्यचकित होगा कि आज भी यहां पर जो भी राजा बनता है उसे राम शब्द का टाइटल होल्ड करना पड़ता है और यहां के लोग आज भी भारतीय संस्कृति को मानते हैं।

No 13.Tibbit (तिब्बत)

तिब्बत का प्राचीन नाम त्रिवासन्त था। जो कि कभी भारत का बहुत ही बार हिस्सा था, फिर यहां पर बौद्ध धर्म का बहुत ही तेजी से प्रसार प्रचार हुआ और यहां पर ज्यादातर लोग बौद्ध धर्म को मानते थे और उन्होंने एक नया देश बना लिया था।

फिर कुछ समय बाद चीन ने तिब्बती शासको को हर कर आपने में मिला लिया लेकिन फिर ये चीन से आजाद हो कर एक नया देश बन गया जिसका नाम पड़ा तिब्बत परंतु कुछ ही समय के बाद चीन ने  दोबारा से हमला कर के तिब्बत को आपने कब्जे में ले लिया।

No 14.Pakistan(पाकिस्तान)

जी दोस्तो पाकिस्तान के बारे हम क्या कहे ,ये तो अभी सारि दुनिया ही जानती है,तो इसके बारे में हम लिखना जरूरी नही समझतें।

No 15.Bangladesh (बांग्लादेश)

बांग्लादेश पहले भारत का हिस्सा था,जो कि पाकिस्तान में चला गया फिर पाकिस्तनि हुकूमत ने अपना वर्चस्व बनने के लिए वह के लोगों पर अत्याचार करने लगे,फिर हिन्दुस्तान के वीरो ने अपनी जान की बाजी लगा कर एक आजाद देश का निर्माण किया जिसका नाम बांग्लादेश परा।

तो दोस्तो हम आशा करते है कि आपको हमारा आर्टिकल आपको जरूर पसंद आएगा ,अगर आपको हमरा आर्टिकल पसंद आये तो आप हमें कॉमेंट करके जरूर बताएं।

 अखंड भारत में कौन-कौन से देश हैं।

दोस्तों अगर हम आज अखंड भारत की कल्पना कर रहे हैं तो इसका मतलब यह नहीं कि भारत किसी दूसरे देश पर कब्जा करना चाहता है बल्कि उन्हें अपनी एक मनोवैज्ञानिक देश बनाना चाहता है जैसे कि पश्चिमी देश का संगठन है ना दो जिसमें 30 देश मिलकर रहते हैं उसी प्रकार अखंड भारत का कल्पना भारत करती है।

जहां पर जितने भी अलग हुए भारत के देश है जो कभी अखंड भारत के हिस्सा हुआ करते थे उन सभी को मिलाकर एक अखंड भारत का निर्माण किया जाए जिसमें सभी देश मिलकर पूरी दुनिया के मंच पर नेतृत्व करें।

अब बात आती है कि अखंड भारत में कितने देश होंगे, तू यहां पर मैं आपको अखंड भारत में आने वाले देशों के नाम लिख रहा हूं।

Akhand Bharat mein kitne desh hain.

# Country Flag
1 Pakistan 🇵🇰
2 Bhutan 🇧🇹
3 Nepal 🇳🇵
4 Myanmar 🇲🇲
5 Cambodia 🇺🇬
6 Bangladesh 🇧🇩
7 Sri Lanka 🇱🇰
8 Vietnam 🇻🇳
9 Afghanistan 🇦🇫
10 Tibet 🚩
11 Thailand 🇹🇭
12 Philippines 🇵🇭
13 Indonesia 🇮🇩
14 Malaysia 🇲🇾
15 Iran 🇮🇷

भारत से कितने देश अलग हुए या फिर भारत से टूटकर कितने नए देश बने से संबंधित रिलेटेड कीवर्ड्स।

दोस्तों भारत से संबंधित जानकारी प्राप्त करने के लिए लोग गूगल में जो सर्च करते हैं उसके कीवर्ड तो मैं बताऊंगा जैसे कि एक ही वर्ड हो गया भारत से टूटकर कितने नए देश बने इसी प्रकार से और भी बहुत सारे Hai jiska list mein aapko bataunga.

  • Bharat ke total kitne desh bane.
  • India kitne deshon mein baitha hai.
  • Akhand Bharat mein kitne desh aate Hain.
  • Bharat se toot kar kul kitne desh bane.
  • भारत से अलग होकर कितने नए देश बने।
  • भारत से टूटकर नए देश बनने वाले मैं अधिकतम कौन सा देश है
  • भारत से टूटकर नए देश क्यों बने।
  • अखंड भारत में कुल कितने देश थे।
  • भारत से टूट कितने नए देश बने हैं।

Conclusion.

दोस्तों हम आशा करते हैं कि आपको हमारा आर्टिकल भारत से कितने देश अलग हुए पसंद आया होगा एवं इससे आपको अच्छी खासी नॉलेज मिल गए होगे भारत के बारे में।

अगर आप इसी प्रकार के और अधिक नॉलेज प्राप्त करना चाहते हैं तो आप हमारे वेबसाइट bajrangisoch.com पर विजिट करते रहे।

1 thought on “भारत से कितने देश अलग हुए जानिए उनके नाम। अखंड भारत के हिस्सा – 15+ country name depart by india”

Leave a Comment